Shri Krishna Puja: The Six Enemies And False Enemies Hostellerie am Schwarzsee, Plaffeien (Switzerland)

श्री कृष्णा पुजा
श्वार्जसी (स्विट्जरलैंड), 23 अगस्त 1986।
श्री कृष्ण हमारे विशुद्धि चक्र में निवास करते हैं।
इस चक्र में वे श्रीकृष्ण के रूप में विराजमान हैं।
बाईं ओर, उनकी शक्ति, विष्णुमाया, उनकी बहन, निवास करती हैं। वहाँ वे गोपाल के रूप में निवास करते हैं, जैसे वे गोकुल में रहने वाले बालक के रूप में खेलते थे।
दाहिनी ओर वे द्वारिका में शासन करने वाले राजा श्री कृष्ण के रूप में निवास करते हैं।
ये हमारे विशुद्धि चक्र के तीन पहलू हैं।
जो लोग अपने दाहिने पक्ष का इस्तेमाल दूसरों पर हावी होने के लिए करते हैं, […]

Talk about Shri Krishna (before the dinner) Hostellerie am Schwarzsee, Plaffeien (Switzerland)

शाम की बात, श्री कृष्ण पूजा संगोष्ठीश्वार्जसी (स्विट्जरलैंड), 23 अगस्त 1986।

तो हमने फैसला किया… [माइक्रोफ़ोन थोड़ा और आगे लाया जाना चाहिए ], हमने अपने शाम के खाने के बाद पूजा करने का फैसला किया है क्योंकि श्री कृष्ण रात में लगभग बारह बजे पैदा हुए थे,जबकि मेरा जन्म भी दिन के समय बारह बजे पैदा हुआ था, श्री राम के साथ भी ऐसा ही। और क्राइस्ट का जन्म भी रात के बारह बजे हुआ था।

मैंने आपको बताया है कि आज मैं आपको गीता के बारे में बताने जा रही हूं। वह कृष्ण के जीवन का दूसरा भाग है। यह इतना अलग और विविध है कि कुछ लोग, […]

Morning of Shri Krishna Puja seminar Hostellerie am Schwarzsee, Plaffeien (Switzerland)

कृष्ण पूजा संगोष्ठीश्वार्जसी (स्विट्जरलैंड), 23 अगस्त 1986।

आज आप सभी को यहां श्री कृष्ण पूजा करने के लिए एकत्रित देखकर बहुत आनंद और खुशी हो रही है।

क्या तुम मुझे वहाँ सुन पा रहे हो? नहीं? सुन नहीं सकते।

ग्रेगोइरे: फिल, क्या आप वापस जोड़ सकते हैं …

श्री माताजी : इतने सारे सहजयोगियों को यहाँ एकत्रित देखकर, मुझे यकीन है कि शैतान बहुत पहले भाग गया होगाऔर कारवां चला गया होगा, लेकिन मुझे आशा है कि हम इसके बारे में जागरुक हैं और हमअपनी पकड़ के बारे मेअपने डर, […]