Shri Krishna Puja पुणे (भारत)

Shri Krishna Puja (Hindi). Pune (India), 9 August 2003.

ORIGINAL TRANSCRIPT HINDI TALK Scanned from Hindi Chaitanya Lahari हम लोगों को अब यह सोचना है कि सहजयोग तो ऐसा गुण है कि हम बालक बन जाते हैं। बालक बहुत फैल गया और किनारे किनारे पर भी लोग यानि अबोधिता, भोलापन और उस भोलेपन से हमें सहजयोग को बहुत मानते हैं। लेकिन जब तक अपने अन्दर देखना चाहिए और उसी से अपने को ढकना है। अब वो भोलापन बड़ा प्यारा होता है। से प्रकटित नहीं होगा तब तक जैसा लोग सहजयोग आप अगर, […]

Talk on Holi day New Delhi (भारत)

Talk on Holi Day Date 17th March 1984 : Place New Delhi : Puja Type English & Hindi Speech Language contents Hindi

[Original transcript Hindi talk, Scanned from Hindi Nirmala Yog]

आप लोग रूपया तक देने भई सुबह चार बजे उठो, अगर कानफन्स है तो। से घबराते है । यह गलत वात जो जरूरी चोज है वह है ध्यान करना। जो बड़ा है। यह सुनकर तो मुझे बड़ा goal (उद्देश्य) है उसे देखना चाहिये। जो चीज आ्चय हुआ कि बम्बई के लोग है, […]

The Vishuddhi Chakra (भारत)

Vishuddhi Chakra, Delhi (India), Public Programme, 2 February 1983.
The prophets are born and create a ripple in our consciousness, a new dimension to our understanding to religion, dharma; which has to be assimilated and has to be understood that, whatever the previous prophets have said, has to be culminated into something else.
 
So as we can say Mohammed Sahib has said that all these prophets who have come on this earth have created a new ripple and also has sustained human beings with a newer evolution, […]

Shri Yogeshwara Puja (England)

(परम पूज्य श्रीमाताजी, श्रीकृष्ण पूजा, चेल्शम रोड, लंदन, 15 अगस्त, 1982)
एक महत्वपूर्ण बिंदु यह है कि वह योगेश्वर हैं और जो बात हमें समझनी है वह यह है कि जब तक आप योगेश्वर के मार्ग का अनुसरण नहीं करते तब तक स्वयं को पूर्णतया स्थापित नहीं कर सकते हैं। श्रीकृष्ण ने कहा सर्वधर्माणां परितज्य मामेकम् शरणम् व्रज। अपने सभी संबंधियों व संबंधों जैसे अपने भाई, पत्नी, बहनों …. को छोड़कर केवल मुझ एक कृष्ण को भज … […]